5 Best Study Tips For LKG Child: एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं? जानें तरीके

5 Best Study Tips For LKG Child: एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं? इलकेजी के बच्चे को पढ़ाने के तरीके
5 Best Study Tips For LKG Child: एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं? जानें तरीके

 

एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं? एलकेजी के बच्चों को पढ़ाने का अनोखे तरीके जानेंगे, जिससे इलकेजी के बच्चों को आसानी से पढ़ाया जा सकता है। चलिए जानते हैं एलकेजी के बच्चों को पढ़ाने का आसान तरीका

मेरे प्रिय पाठकों जैसा की जानते हैं की एलकेजी में पढ़ने वाले बच्चें बहुत छोटे होते हैं। और उन्हें अभी उतना समझ भी नही होता है की उसे कुछ भी पढ़ाया जा सकता है।

 

लेकिन आज हम बात करेंगे की ऐसा क्या पढ़ाया जाए एलकेजी में पढ़ने वाले बच्चों को की उन्हें आसानी से समझ में भी आए और उन्हें पढ़ाई से डर भी ना लगे। चलिए जानते हैं एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाते हैं? LKG ke Bachchon ko kaise padhayen?

 

एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं?

सबसे पहले तो यह की एलकेजी में पढ़ने वाले बच्चों को ज्यादा से ज्यादा समझाएं क्योंकि तभी वह पढ़ पाएंगे इस उम्र में खुद का दिमाग तो लगा नही सकते हैं। इससे बेहतर होगा की आप जो भी विषय को पढ़ा रहें हैं उन्हें पहले खुद ही बोल कर या लिख कर दिखा दें की कैसे लिखना या पढ़ना है।

 

1. पहला शुरुआत हिन्दी से करें

वैसे तो बच्चों को क ख ग नर्सरी में ही सीखा दिया जाता है फिर भी उन्हें ये नही आता है तो पहले सिखाएं तभी आगे बढ़े। चलिए बात करते हैं जिन्हें ये सब आता है उन्हें हिन्दी कैसे सिखाएं तो ऐसा भी नही है की LKG या UKG में ही बच्चे को हिन्दी पढ़ना आ जाए सबसे पहले एलकेजी और UKG के बच्चों को मात्राएँ और खड़ियां सिखाएं। यह ही काफी होगा क्योंकि जैसा की आप जानते हैं कि इस समय बच्चें के ऊपर पढ़ाई का ज्यादा बोझ नहीं डाल सकतें हैं। और हिन्दी किस तरह से सिखाएं जातें हैं वह भी पुरे विस्तार से बताया गया है। आप पढ़ सकतें हैं।

 

2. ABCD सिखाएं

वैसे तो अधिकतर बच्चें नर्सरी क्लास में ही सीख चुके होते हैं लेकिन वह सिर्फ या तो पढ़ पाते हैं या बोल पाते हैं उन्हें ठीक से पता नहीं होता है कि कौन सा शब्द क्या है। तो ABCD अगर आती है तो उन्हें शब्दों के पहचानना सीखा सकतें हैं इसके लिए आप उन्हें बोले और लिखने को कहें लेकिन ध्यान यह रखें की आप शब्द जहाँ- तहाँ से बोलें नहीं तो सीधी-सादी बोलने पर वह भी लिख देंगे क्योंकि उस तरह से याद कर चुके हैं।

नहीं तो आप बोर्ड पर शब्द लिखकर उनसे पुछे की लिखी गई शब्द कौन सा है और इसे क्या बोला जाता है ऐसा करने से बच्चें बहुत ही लंबे समय के लिए याद रख पाएंगे।

 

3. गिनती करना बताए

जिस तरह से आप हिन्दी पढ़ना सिखा चूके हैं उसी तरह बच्चों को गिनती सिखना भी बहुत ही अनिवार्य है। इसके लिए शुरुआत में 1 से 10 से करें क्योंकि इतना में ही बच्चें अंको को पहचानना सीख जातें हैं। उसके बाद ही आगे बढ़े। बेहतर यह होगा की बच्चों को थोड़ी- थोड़ी कर के गिनती सिखाएं। अगर बच्चें आप के कई कोशिश के बाद भी भुल जा रहें हैं तो गिनती याद करने का सबसे आसान सा उपाय यह है की बच्चों की एक ग्रुप बनाएं और उनमें से एक को गिनती बोलने को कहें और बाकी बच्चों को उसके पीछे-पीछे बोलने के लिए कहें।

 

4. कविताएं सुनाएं

इस उम्र के बच्चों को मस्ती बहुत ही ज्यादा पसंद होता है इसलिए इनकी पढ़ाई को जीतना ज्यादा खेल और मस्ती से भर सकतें हैं उतना करें। इसके लिए कविता का सहारा ले सकतें हैं। इन सब में एक यह भी कर सकते हैं की कविता के साथ शारीरिक गतिविधियों के द्वारा बताएं। या कोई अन्य बच्चें का द्वारा यह करा सकतें हैं। और फिर बारी-बारी सुनाने के लिए कहें। इस तरह बच्चें पढ़ाई की ओर अपना ध्यान आकर्षित करेंगे । और उन्हें यह लगने लगेगा की पढ़ाई भी एक तरह का खेल ही हैं।

 

5. कहानी सुनाएं

वैसे तो किताबों में कहानियां होते ही हैं लेकिन वे पढ़ नही पाएंगे या तो समझ नहीं पाएंगे। इसका सबसे सरल सा तरीका यह है की आप कहानी पढ़ कर सुनाएं और बच्चें को समझाएं की इस कहानी का अर्थ क्या है। एक तरीका यह है कहानी में जीतने भी पात्र हैं उतने ही बच्चें ले और सबको अपनी-अपनी पात्र के अनुसार लाईन बोलने को कहें इस प्रकार बहुत जल्द समझ जाएंगे और कहानी उन्हें याद भी हो जाएंगे।

तो चलिए समाप्त की जाती है वैसे इस पेज में और भी जानकारी जोड़ी जायेगी जिससे की LKG के बच्चों को पढ़ाना और भी आसान हो जायेगा।

छोटे बच्चों को कैसे पढ़ाएं? बच्चों को पढ़ाने की 25 नए तरीके

एलकेजी में किया पढ़ाया जा सकता है?

एलकेजी के बच्चों को बेसिक शिक्षा जैसे की शब्दों की पहचान करना और वर्णमाला, कविताएं सिखाया जा सकता है। इसके साथ ही एलकेजी के बच्चों को गिनती, इंग्लिश के शब्द पहचान जिनमें चित्रों के द्वारा शब्दों का अनुसरण किया गया हो ऐसे शिखा एलकेजी के बच्चों को पढ़ाया जा सकता है।

 

एलकेजी में बच्चों की उम्र कितनी होनी चाहिए?

वैसे तो आजकल के बच्चों को 4 से 5 साल की उम्र तक स्कूल जाना शुरू कर देते हैं ठीक इसी तरह एलकेजी के बच्चों को कम से कम 5 से 6 वर्ष उम्र होनी चाहिए। बच्चें को इस उम्र तक शब्दों को पहचानना और समझना आसान हो जाता है। इस उम्र में बच्चें स्कूल जाना शुरू कर चूके होते हैं।

 

एलकेजी के लिए सबसे अच्छी उम्र कौन सी है?

राष्ट्रीय शिक्षा के अनुसार एलकेजी के लिए बच्चों की सही उम्र कम से कम 4 वर्ष होनी चाहिए। एलकेजी में नामांकन पाने के लिए आपके बच्चों की आयु लगभग 4 से 5 वर्ष होनी अनिवार्य है।

Best Child Study Tips: खेल खेल में बच्चों को कैसे पढ़ाएं? खेल खेल में पढ़ाने का बेहतरीन 5 तरीके

निष्कर्ष: एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं?

आशा है की इसे पढ़ कर आप समझ चूके होंगे की एलकेजी के बच्चों को कैसे पढ़ाएं? और पढ़ाया जाता है। इसी तरह के उपयोगी टॉपिक हमारे पेज पर आते रहते हैं तो महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए इस पेज चहक भारत पर बराबर बने रहें। और ज्ञान प्राप्त करते रहें।

 

FAQ: एलकेजी के बच्चों को पढ़ाने का तरीका

Q-1. LKG के बच्चों को कैसे पढ़ाएं?

  • LKG के बच्चों को प्यार से और पुरे टॉपिक को समझाते हुए पढ़ाएं।

Q-2. LKG और UKG के बच्चों को एक साथ पढ़ा सकतें हैं क्या?

  • ये दोनो वर्ग की बच्चे को साथ में पढ़ा सकतें हैं विषय में भी थोड़ी सी अलग होता है।

Leave a Comment