छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? बच्चों को याद कराने का 5 आसान तरीका

छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? बच्चों को याद कराने का 5 आसान तरीका
छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? बच्चों को याद कराने का 5 आसान तरीका

 

छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? छोटे बच्चों को पढ़ाई करते वक्त उनका सबसे ज्यादा समस्या यह होता है की बच्चें पढ़ें हुए विषय को याद नही कर पाते हैं या भुल जातें हैं। आइए जानते हैं की छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं?

 

यहाँ बच्चों को बहुत कुछ सिखाया गया है और आगे भी इसी प्रकार से सिखाते रहेंगे जिससे बच्चें को पढ़ाई में किसी भी प्रकार की समस्याएँ ना आएं ऐसे ही जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे साथ बने रहे और इसे पूरी जरूर पढ़ें। आज का विषय यह है की छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? जिसकी 5 आसान उपाय बताए गए हैं पूरी जानकारी पाने के लिए इस आर्टिकल को ध्यान से जरूर पढ़ें।

कई ऐसे बच्चे होते हैं जो छोटे उम्र में भी उनका याद करने की क्षमता गजब की होती है और कोई-कोई ऐसे भी बच्चें होते हैं जो कई कोशिश करने के बाद भी वे याद नही कर पाते हैं। ऐसे बच्चों को याद कैसे कराएं? इसकी सरल सी उपाय जानने की कोशिश करते हैं। आइए समझते हैं की छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? Bacchon ko yaad karane ka tarika.

 

छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं?

छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? जैसा की आप भी समझते होंगे की बच्चों में बड़ों के मुकाबले मानसिक विकास कम होती है। जिसके चलते बच्चें को कुछ भी याद करने में थोड़ी वक्त लगती है ऐसे में छोटे बच्चों को याद कराने के लिए उन्हे चित्रों वाली विषय पढ़ने के लिए दें जिससे की उनके दिमाग में एक छायाचित्र बना रहे और इस प्रकार से बच्चें किसी भी विषय को जल्दी और आसानी से याद कर सकेंगे।

 

बच्चों को याद कराने का तरीका

 

1. पढ़ाने से ज्यादा समझाएं

अगर आप चाहतें हैं की बच्चें को पढ़ें हुए विषय लम्बे समय तक याद रहे तो उन्हे पढ़ाने या रट्टा लगवाने से अच्छा है की उन्हे अच्छें से समझाएं ऐसा करने से बच्चें किसी भी विषय को एक बार समझने के बाद लम्बे समय तक याद रख पाएंगे।

 

2. उनके मनपसंद विषय पढ़ने दें

हर इन्सान को पढ़ाई के दौरान कुछ विषय(Subjects) पसंदीदा होता है और उन्हे इसे पढ़ने में ज्यादा मन लगता है तो अपने बच्चों इस तरह की विषयों को पढ़ने की शौक है तो उन्हे पढ़ने दें उन्हें जबरदस्ती किसी एक विषय को पढ़ने पर जोर ना दें।

 

3. रंगीन किताबों से पढ़ाएं

इस उम्र में बच्चों को रँग-बिरंगे किताबें ज्यादा आकर्षित करते हैं उनमे बने हुए चित्रों को देखना अच्छा लगता है तो उन्हें इस प्रकार के कितबों में दिए गए टॉपिक को पढ़ा सकते हैं जिनसे बच्चें को पढ़ने में मन भी लगा रहेगा।

 

4. समूह में बैठाकर याद कराएं

आप किसी ऐसे विषय को पढ़ा या बता रहे हैं जिन्हे समूह में बच्चों को पढ़ाया जा सकता है जैसे की कोई कविता या कहानी ऐसे टॉपिक को बच्चों को समूह में ही पढ़ाएं इस प्रकार आसानी से याद कर पाएंगे।

 

5. अभ्यास कराते रहें

बच्चों को याद कराने के लिए उनसे अभ्यास कराना जरूरी है नही तो वे पीछे पढ़ी हुई टॉपिक को भूलते जाएंगे। बच्चें को याद करना सिखाने के लिए उनसे अभ्यास कराते रहें जिससे वे लम्बे समय तक याद रख पाएंगे।

आपने कुल 5 तरीके जाने की छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं?

 

बच्चों को याद करना सिखाते वक्त ध्यान देने योग बातें

  • बच्चों को याद करना सिखाते वक्त या याद कराने के लिए कई बार देखा जाता है की उन्हें डराते हैं जिससे बच्चें के ऊपर एक बुरा असर प्रभाव डालता है तो इन सब से बचें और बच्चों को आराम से समझाएं और याद कराएं।
  • कभी भी ज्यादा टास्क ना दें बच्चें को उनकी क्षमता को पहचानकर ही टास्क दें जितना की याद कर पाएं।
  • एक ही विषय को कई बार याद करने के लिए दे सकते हैं जिससे बच्चें कभी भुलाएँगे नही।
    बच्चों को याद कराते वक्त उनसे प्यार से बात करें।

महिलाओं के लिए बेहद खास है ई सखी का पोस्ट

आइए जानते हैं की बच्चों को बाकी के विषय को कैसे याद कराएं जातें हैं।

बच्चें किस उम्र में अपना नाम लिखना शुरू करते हैं? इस उम्र के बच्चें लिखना शुरू करते हैं अपना नाम 2024

बच्चों को टेबल याद कैसे कराएं?

टेबल याद कराने के लिए बच्चों को सबसे पहले टेबल की पहचान जरूर कराएं उसके बाद उनसे अभ्यास कराएं।

आइए जानते हैं बच्चों को टेबल याद कराने का तरीका

  • बच्चों को टेबल याद कराने के लिए उन्हें टेबल की पहचान कराएं।
  • टेबल याद करने का आसान तरीका यह है की अपने क्लास में बच्चों की समूह बनाए और सभी बच्चों से एक साथ टेबल बोलना सिखाएं इस प्रकार बच्चें बहुत ही जल्द टेबल याद कर लेंगे।
  • खाली समय में उनसे टेबल की अभ्यास कराएं।
  • क्लास की एक-एक बच्चों के द्वारा टेबल लिखवाएं और उनमे होनेवाली गल्तियों को सुधारें जिससे बच्चें के द्वारा होनेवाली गल्तियां धीरे-धीरे खत्म हो जायेगा।
  • टेबल याद कराने से पहले यह सुनिश्चित कर लें की उन्हें गिनती आता हो।
  • गिनती आने के बाद टेबल याद करना आसान होता है क्योंकि उन्हें शब्दों को पहचानने में किसी भी प्रकार की कठिनाई नही होती है।

 

निष्कर्ष: छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं?

आशा और उम्मीद है की आपको यह आर्टिकल काफी ज्यादा उपयोगी लगा होगा जिसमें जाना की बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? बच्चें को याद करने का तरीका को समझा जिन्हें आप अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

किसी भी प्रकार की प्रश्न या सुझाव हमें कमेंट के माध्यम से जरूर दें।

1 thought on “छोटे बच्चों को याद करना कैसे सिखाएं? बच्चों को याद कराने का 5 आसान तरीका”

Leave a Comment